Monday, 4 May 2015

सोशलिस्ट पार्टी (इंडिया) दिल्ली प्रदेश का राज्य सम्मेलन

26 अप्रैल 2015

प्रेस सूचना
सोशलिस्ट पार्टी (इंडिया) दिल्ली प्रदेश का राज्य सम्मेलन

सोशलिस्ट पार्टी (इंडिया) की दिल्ली इकाई का राज्य सम्मेलन 26 अप्रैल (रविवार) 2015 को आयोजित किया गया। 11 am से शुरू हुआ कार्यक्रम 12 नंबर, चेम्स फोर्ड रोड, नई दिल्ली में क़रीब 5 बजे तक चला। राज्य सम्मेलन की अध्यक्षता वरिष्ठ समाजवादी नेता जस्टिस राजेन्द्र सच्चर ने की । राज्य सम्मेलन का आयोजन दो सत्रों में किया गया । पहले सत्र में जस्टिस राजेन्द्र सच्चर, वरिष्ठ अधिवक्ता अनिल नौरिया, सोशलिस्ट पार्टी दिल्ली प्रदेश की अध्यक्ष रेणु गंभीर, सोशलिस्ट जनता पार्टी की अध्यक्ष मंजू मोहन और सोशलिस्ट पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव डॉ प्रेम सिंह ने अपने विचार रखे।
जस्टिस राजेन्द्र सच्चर ने पार्टी के तमाम कार्यकर्ताओं को योजनाबद्ध तरीके से दिल्ली की समस्याओं पर संघर्ष करने और जनता के बीच जाकर उनकी समस्याओं के समाधान का सुझाव दिया। जस्टिस सच्चर ने कहा कि ऐसे माहौल में जब लोकतंत्र और संविधान पर संकट के बादल छाए हैं, तो सोशलिस्ट पार्टी के कार्यकर्ताओं की जिम्मेदारी और ज्यादा बढ़ जाती है। सम्मेलन में अनिल नौरिया ने कार्यकर्ताओं को दिल्ली की विरासत , पर्यावरण को बचाने और स्वास्थ्य सेवाओं के बारे में  लोगों को जागरूक करने पर ज़ोर दिया । रेणु गंभीर ने अपने संबोधन में साफ तौर पर कहा कि, सोशलिस्ट पार्टी उन सभी मुद्दों पर संघर्ष करने के लिए प्रतिबद्ध है, जहां आम जन को उनके वाजिब हक़ से महरूम किया जाएगा। रेणु गंभीर ने कहा कि सोशलिस्ट पार्टी लोगों के बीच लोगों के संघर्ष के लिए लड़ती हैं। मंजू मोहन ने महिलाओं की सुरक्षा का मुद्दा उठाया। पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव डॉ प्रेम सिंह ने कार्यकर्ताओं को संगठन के विस्तार और पार्टी की आगामी योजनाओं की रणनीति पर सुझाव दिए। डॉ प्रेम सिंह ने दिल्ली की मौजूदा सरकारी की वादाखिलाफी और धोखेबाजी के बारे में लोगों को जागरूक करने का भी सुझाव दिया। पहले सत्र का संचालन हिरण्य हिमकर ने किया ।

सोशलिस्ट पार्टी राज्य सम्लेन के दूसरे सत्र में दिल्ली प्रदेश का प्रस्ताव पास किया गया। पार्टी का प्रस्ताव सोशलिस्ट युवजन सभा के शंशाक सिंह ने कार्यकर्ताओं के बीच रखा। जिसका समर्थन SYS के महासचिव निरंजन महतो ने किया। सोशलिस्ट पार्टी ने अपने प्रस्ताव में 13 महत्वपूर्ण बिंदुओं के जरिए केन्द्र और दिल्ली सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ़ संघर्ष का एलान किया है। प्रस्ताव पेश करने के बाद दिल्ली प्रदेश का चुनाव किया गया। सोशलिस्ट पार्टी संसदीय बोर्ड के सचिव डॉ अश्विनी ने रेणु गंभीर के नाम का प्रस्ताव रखा। जिसका समर्थन सत्यप्रकाश ने किया । रेणु गंभीर को सर्वसम्मति से सोशलिस्ट पार्टी दिल्ली प्रदेश का दोबारा अध्यक्ष चुन लिया गया। निर्वाचन के बाद रेणु गंभीर ने अपनी नई टीम की घोषणा की। नई टीम में अब्दुल कय्यूम और महेन्द्र यादव को उपाध्यक्ष चुना गया। शऊर अली ख़ान और नीलम निगम को सचिव चुना गया। इसके साथ ही 6 लोगों की कार्यकारिणी की घोषणा की गई, जिसमें सीलमपुर से रेशमा अंसारी, ओखला से शादाब, अंजुम, बुराड़ी से रोहित, त्रिलोकपुरी से राखी गुप्ता और शंशाक सिंह शामिल हैं।
राज्य सम्मेलन के दूसरे सत्र की अध्यक्षता बिहार सोशलिस्ट युवजन सभा के अध्यक्ष गौतम प्रीतम ने की। इसके साथ ही डॉ अश्विनी, सोशलिस्ट पार्टी के महासचिव ओंकार सिंह, सोशलिस्ट पार्टी लोहिया के सुभाष भटनागर, युवा समता क्रांतिदल के अरुण सिंह ने अपने विचार रखे। दूसरे सत्र में गौतम प्रीतम ने अध्यक्षीय भाषण दिया तो वरिष्ठ समाजवादी चिंतक श्याम गंभीर ने समापन भाषण दिया। सोशलिस्ट पार्टी ने तय किया है कि अंबेडकर जयंती समारोह के तहत पार्टी दिल्ली में समारोह का आयोजन करेगी। तो खादी ग्रामोद्योग के पुनर्निमाण के लिए देश भर में संघर्ष करेगी। दूसरे सत्र का संचालन राजेश कुमार ने किया ।
सम्मेलन में गौतम प्रीतम और ईश्वर चंद ने क्रांति गीत के जरिए संघर्षों को सुर दिया। राज्य सम्मेलन का समापन जंतर मंतर पर आत्महत्या करने वाले किसान गजेन्द्र सिंह और समाजवादी नेता रामगोपाल सिसोदिया के लिए 2 मिनट का शोक रख कर किया गया ।
नीरज सिंह                                     
कार्यक्रम संयोजक                             

मो.9911970162

No comments:

Post a Comment

राष्ट्रीय आय का वितरण (तीसरी लोकसभा का 5वां सत्र)

राष्ट्रीय आय का वितरण (तीसरी लोकसभा का 5वां सत्र) (13 अगस्त 1963 - 21 सितम्बर 1963)             डॉ. राममनोहर लोहिया : अध्यक्ष मह...