Sunday, 2 September 2012

कैम्पस में रैली पर प्रतिबन्ध अलोकतांत्रिक

सोशलिस्ट युवजन सभा (SYS) दिल्ली विश्वविधालय प्रशासन द्वारा परिसर में रैली निकालने पर लगाये गए प्रतिबन्ध का विरोध करती है । रैली का आयोजन छात्रों, शिक्षकों और कर्मचारियों का लोकतान्त्रिक अधिकार है । उसे मनमाने आदेश द्वारा छीना नहीं जा सकता । जैसा कि  प्रशासन ने कहा कहा है, अगर किसी संगठन के सदस्यों ने किसी तरह की अभद्रता व अनुशासनहीनता की है, तो उनकी पहचान करके उन्हें नियमानुसार दण्डित किया जाना चाहिए । खबरों के मुताबिक इस मामले में अभी तक किसी की पहचान या गिरफ़्तारी नहीं हुई है । रैली पर प्रतिबन्ध लगाने का अलोकतांत्रिक आदेश प्रशासन ने अपनी नाकामी छिपाने के लिए दिया है । SYS विश्वविधालय प्रशासन से रैली पर प्रतिबन्ध हटाने और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की अपील करती है ।

SYS ने 14 सितम्बर 2012 को होने वाले डूसू चुनावों में चारों पदों पर अपने उम्मीदवार उतादाने उतारने का फैसला किया है । डूसू चुनावों के मद्देनजर SYS की दिल्ली विश्वविधालय इकाई ने कई दिन पहले से उतरी परिसर में 5 सितम्बर को रैली निकालने का फैसला किया हुआ है । अगर प्रशासन अपना आदेश वापस नहीं लेता है तो SYS सदस्य विवेकानंद चौक पर जमा होकर अपनी बात छात्र-समुदाय के सामने रखेंगे ।

राकेश कुमार दुबे 
संयोजक, डूसू चुनाव अभियान समिति 
मोबाइल: 9871111378 

No comments:

Post a Comment

जाति और योनि के दो कटघरे

डॉ. राममनोहर लोहिया       दुनिया में सबसे अधिक उदास हैं हिन्दुस्तानी लोग | वे उदास हैं, क्योंकि वे ही सबसे ज्यादा गरीब और बीम...