Sunday, 3 June 2018

3 जून 2018
प्रेस रिलीज़

साथी गौतम कुमार प्रीतम रिहा

SC/ST (Prevention of Atrocities) Act को प्रभावहीन बनाने के खिलाफ आयोजित 2 अप्रैल के भारत बंद में गौतम कुमार प्रीतम को भागलपुर जिला में नेतृत्वकारी भूमिका के साथ सफल बंद कराने के वजह से पुलिस द्वारा दर्ज झूठे मुकदमे के तहत युवा नेता व सोशलिस्ट युवजन सभा के महासचिव गौतम कुमार प्रीतम और अजय रविदास 21 अप्रैल को झंडापुर ओपी (बिहपुर) पुलिस ने गिरफ्तार किया था । उन्हें गिरफ्तारी के बाद नवगछिया ले जाया गया था । उन पर IPC की धाराएं 147, 149, 342,188, 353, 504,05 Assistance Services Act 1960 लगाई गईं थी। जबकि, भागलपुर डीएम ने एक प्रतिनिधि मंडल से वार्ता में दर्ज मुकदमों की वापसी का आश्वासन दिया था । भागलपुर जिला न्यायालय से बेल खारिज हो गयी थी, सोशलिस्ट पार्टी ने उच्च न्यायालय पटना में बेल के लिए अर्जी लगाईं थी| साथी गौतम को उच्च न्यायालय पटना से बेल मिल गयी है और वे 5 जून को जेल से रिहा हो जायेंगे।
भाई गौतम भागलपुर जिला में सामाजिक न्याय के सवाल पर हमेशा मुखर आवाज हैं और सक्रिय राजनीतिक कार्यकर्ता तथा नेता के साथ साथ जनगायक भी है। वो कबड्डी संघ भागलपुर के सचिव हैं | भाई गौतम बिहपुर विधानसभा (भागलपुर, बिहार) से 2015 का विधानसभा चुनाव सोशलिस्ट पार्टी से लड़ चुके हैं | अजय रविदास जय प्रकाश नारायण महाविद्यालय छात्रसंघ चुनाव में सोशलिस्ट युवजन सभा के उम्मीदवार थे |
नीरज कुमार
अध्यक्ष
सोशलिस्ट युवजन सभा

No comments:

Post a Comment

समाजवाद : सफलता विफलता और संभावनाएं

श्याम गंभीर           जब भारतीय राष्ट्रिय आन्दोलन चल रहा था तो उसमें समाजवादी धारा के नेताओं आचार्य नरेन्द्र देव, डॉ. राममनोहर लोहि...